LPG Full Form in Hindi – LPG Gas कैसे बनती है? साइंस के स्टूडेंट जरूर पढ़े.

इस आर्टिकल में हम LPG GAS कैसे बनती है और LPG Full Form in Hindi एलपीजी गैस तो अपने घरो में उपयोग करता है लेकिन उन्हें यह पता नहीं होता है की LPG Gas कैसे काम करती है और कोई जानने की इच्छा भी नहीं रखता क्योंकि सबको पता है की एलपीजी एक गैस है जिसे हम अपने घर में खाना पकाने के लिये ईंधन के रूप में उपयोग करते है.

लेकिन अगर आप साइंस के स्टूडेंन्ट हो तो आपको एलपीजी जी की जानकारी केवल घरेलु उपयोग तक ही सिमित नहीं रखनी चाहिए आपको LPG के विज्ञान और इसकी केमिकल संरचना को भी समझना चाहिए।

LPG का पुरा नाम (LPG Full Form in Hindi)

LPG का फुल फॉर्म Liquefied Petroleum Gas होता है हिंदी में LPG का पूरा नाम तरलीकृत पेट्रोलियम गैस है.

चलिए समझते है की एलपीजी गैस क्या है और यह कैसे काम करती है.

LPG Full Form in hindi

LPG क्या है?

जैसा की हम जानते है की एलपीजी एक गैस है जिसे घरो में खाना पकाने के लिए प्रयोग किया जाता है. लेकिन वैज्ञानिक रूप से हम पढ़े तो एलपीजी गैस हाइड्रोकार्बनों का मिश्रण है. लेकिन यह हाइड्रो कॉर्बन क्या है?

हाइड्रोकॉर्बन वो तत्व या पदार्थ होते है जो हाइड्रोजन और कॉर्बन से मिलकर बने होते है. जैसे मेथेन एक हीड्रोकॉर्बोन है इसका रासायनिक सूत्र (CH4) होता है.

अब इस रासायनिक फॉर्मूले से हम देखें तो मेथेन में 1 अणु कर्बोन का है और 4 अणु हाइड्रोजन के होते है.

ऐसे ही ऐथेन होता है जिसका रासायनिक सूत्र (C2H6) होता है. इसी प्रकार प्रोपेन और ब्यूटेन भी होते है.

LPG Gas भी कुछ गैसों का मिश्रण है जैसे: Propane, Butane, Isobutane, Butylene, Propylene आदि. जिसमे प्रोपेन और ब्यूटेन दो मुख्य गैसें है ये ज्वलनशील गैस है.

प्रोपेन का रासायनिक सूत्र: C3H8

ब्यूटेन का रासायनिक सूत्र: C4H10

यही उपरोक्त रासायनिक फार्मूला ही LPG गैस फार्मूला होता है.

LPG का Freezing Point -188 °C (-306.4°F) होता है मतलब की यह -188 °C पर जम जाती है.

LPG GAS का Boiling Point -42°C or -44°F होता है. कमरे के तापमान LPG GAS द्रव अवस्था में होती है क्योंकि यह Gas Cylinder में प्रेशर के साथ होती है. इस LPG GAS का द्रव अवस्था में घनत्व (Density) पानी के घनत्व का आधा होता है.

प्राकृतिक अव्स्त्था में LPG Gas का कोई भी रंग नहीं होता है और न हीं इसमें कोई गंध होती है इसलिये गैस के रिसाव का पता लगाने के लिए इसके साथ एक अन्य गैस इथाइल मर्केप्टेन (C₂H₆S) को मिलाया जाता है जिससे किसी होनी वाली हानि से बचा जा सके.

अगर हम LPG की तुलना इंधन के रूप में CNG से करें तो LPG GAS इंधन के लिये बेस्ट गैस है क्योंकि LPG गैस का उष्मीय मान CNG से अधिक होता है

जैसे: LPG का उष्मीय मान 90-95 MJ/m3 है एवं CNG का उष्मीय मान 35-40 MJ/m3MJ/m3 है तो स्वाभाविक है की LPG का कैलोरी मान अधिक है इसलिये यह इंधन में CNG से बेस्ट गैस है लेकिन CNG GAS क्या है कैसे काम करती है? यह भी अवश्य जाने.

लेकिन इन दोनों गैसों की एक खासियत है की इनके दहन के बाद कोई अवशेष नहीं बचता है जिससे किसी भी प्रकार का प्रदुषण होने की संभावना न के बराबर होती है.

LPG के उपयोग

वैसे तो LPG एक बहुत ही उपयोग गैस है जिसे हम कई प्रकार से उपयोग कर सकते है जैसे: इंधन के रूप में सबसे अधिक उपयोग किया जाता है. देखते है एलपीजी का उपयोग कहाँ कहाँ किया जाता है.

  • घरेलु उपयोग में खाना पकाने के लिए
  • घरों में सर्दियों में कंसोल या हीटिंग सिस्टम डक्ट में
  • रेफ्रीजरेटिंग में CFC की जगह पर क्योंकि इसके उपयोग से ओजोन परत में नुकसान नहीं होता है.
  • ठंडे मौसम में पानी को गर्म करने में  
  • वाहनों के इंधन के रूप में
  • इलेक्ट्रिसिटी में एलपीजी का प्रयोग 
  • इंडस्ट्री उद्योग आदि में Glass और Steel Cutting में.

LPG का ही प्रयोग रसोई में क्यों करते है?

LPG का प्रयोग ही सबसे अधिक रसोई में किया जाता है क्योंकि इसके गुणों के कारण चलिए जानते है की की क्यों एलपीजी को घरेलु रसोई में प्रयोग किया जाता है.

  • यह जलने के बाद जहरीली नहीं होती है
  • यह छोटे-छोटे सिलिंडर में भरकर प्रयोग की जा सकती है.
  • इसे बंद कमरे में या बंद जगह पर भी प्रयोग कर सकते है क्योंकि इससे धुआं नहीं होता है.
  • इसके उपयोग से वातावरण को नुकसान नहीं होता है.
  • इस ट्रेडिशनल इंधन जैसे: कोयला और लकड़ी के मुकाबले उपयोग करना आसान है.

तो इस आर्तिकल में हमने जाना की LPG Full in Hindi क्या होता है LPG गैस कैसे बनती है और अन्य LPG GAS से सम्बंधित जानकारी जो की एक स्टूडेंट को पता होना चाहिये वह हमने इस आर्टिकल के माध्यम से शेयर किया है

अगर आपको एलपीजी से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना है तो कृपया कमेंट करके पूछे!

Leave a Comment